Saturday, February 20, 2010

ताऊ की दुकान से सावधान !


ताऊ  की दुकान से सावधान ! लिखने का मतलब यह बिलकुल नहीं लें कि मैं ताऊ की बेईमानियों का खुलासा करने जा रहा हूँ , मेरा कोई दिमाग ख़राब नहीं है कि ताऊ की चालाकियों का पर्दाफाश करने की हिम्मत करुँ  मुझे खूब पता है  कि  नियम नंबर ६ के अनुसार 
"६. आप यह समझ ले कि अगर आपने हमारे द्वारा प्रदत पुरस्कारों की अवमानना की या उसके विरोध में कुछ लिखा या आंदोलन किया तो जैसे ही आप कंप्युटर पर लिखने बैठेंगे आपका कंप्युटर टुटकर दो टुकडे हो जायेगा. यह सत्य वचन हैं. फ़िर हमें दोष मत दिजियेगा."
इस महंगाई के जमाने में ताऊ के काले जादू और टोटके का गुस्सा झेलने की ताकत  मुझमे नहीं है ! मगर ताऊ की दुकान पर बढ़ती हुई ब्लागरों की भीड़ देख मन में बेचैनी बढ़ती जा रही है , इन ब्लागरों को ताऊ कभी पहेलियों के जरिये और कभी ब्लागर मीट के जरिये लुभावने विज्ञापन देकर बुलाता है  और अंत में  सीधे साधे ब्लागरों की जेब खाली की जाती है ! कुछ नमूने देखें .....


और अब ताऊ ने वजन घटाऊ प्रोडक्ट भी समीर लाल जी ने उपयोग करना शुरू कर दिए हैं ....समझ में नहीं आ रहा है कि क्या वाकई ताऊ प्रोडक्ट इतने अच्छे हैं कि समीर लाल इतने गोरे हो गए  और अब उनकी  सुडौल काया भी इकहरी होने जा रही है  ? 
आप लोग खुद ही फैसला करें  और अपनी राय दें ,अगर समीर लाल के सर्टिफिकेट के हिसाब से यह प्रभावशाली हैं , तब तो जवानी बापस लाने वाली क्रीम का इंतज़ार हमें भी रहेगा ! 

    13 comments:

    1. मुझे ताऊ जी की ऐसी क्रीम का इंतज़ार है...जो बचपन वापस ला दे....

      और ताऊ जी से कहियेगा कि मेरी रामप्यारी का ख्याल रखें..... मैं रामप्यारी से बहुत प्यार करता हूँ....

      रामप्यारी ....आई लव यू....

      ReplyDelete
    2. ताऊ जी के सभी प्रोडक्‍टों पर विश्‍वास तो तभी हो सकता है .. जब समीर लाल जी भारत लौटेंगे !!

      ReplyDelete
    3. मुझे दो किलो ऎसी करीम चाहिये जो मेरी भॆंस को गोरा कर दे...

      ReplyDelete
    4. वाह जादू है जादू ये क्रीम तो :)
      यह तो काली कमाई पर भी लगाई सकती है...

      ReplyDelete
    5. धन्यवाद सावधान करने के लिये
      मै भी झांसे में आते आते बचा

      ReplyDelete
    6. आपने समीर लाल की काया के सार्वजनिक विज्ञापन की अनुमति तो ली ही होगी

      ReplyDelete
    7. समीर जी का निखरता हुस्न देख-देख कर शाहरुख, सलमान, आमिर, ऋतिक, रणबीर अभी से गश खाने लगे हैं...

      समीर जी ने हीरो बनने का फैसला किया तो एक बात और प्रोड्यूसर को लाइटिंग का खर्चा भी बच जाएगा...समीर जी का रंग ही इतना गोरा हो जाएगा कि लाइट की ज़रूरत ही नहीं पड़ेगी...

      अब समीर जी को ताऊ इतना गोरा भी मत कर देना कि उलटे उन्हें टैनिंग की ज़रूरत पड़ जाए...

      जय हिंद...

      ReplyDelete
    8. यूँ तो फेयर एण्ड लवली पर भी डाऊट करने वालों की कमी नहीं है, लेकिन बेचारी बाजार में बिक ही रही है और हाथों हाथ जाती है. :)

      बिना पानी में उतरे किनारे से ही गहराई नापने वाले अक्सर धोखा ही खाते हैं भाई जी..पानी में उतरिये तो सही, फिर तैरना भी आ जायेगा. आपका सियाचिन सम्मेलन में विशेष सम्मान किया जाना है, वहाँ तो आ रहे हैं न आप?? बड़ा इन्तजार है. :)

      आपके बिना तो सूना सूना लगेगा और फिर रिपोर्टिंग भी तो आपको करनी है. बस देखियेगा, थोड़ा फेवर में भी लिखने की कोशिश करियेगा.

      होली की मस्ति देख कर मजा आ गया आपकी पोस्ट में..कबीरा सरा र रा!!

      रामराम.

      ReplyDelete
    9. अभी तो आपने वजन घटाऊ टेबलेट का असर नहीं देखा महाराज!! ताऊ के फोटोग्राफर आये थे उसके लिए मॉडलिंग कराने और फोटू हैंच कर ले गये हैं. छपने ही वाली होगी जल्दी. :)

      आपकी होली शुरु हो गई लगता है. मजा आ गया. लगे रहिये. अब आपको होली तक गंभीर पोस्ट लाने पर पाबंदी जारी हो गई है. हा हा!

      ये लो उपर तो ताऊ भी आ लिए. :)

      ReplyDelete
    10. सतीश जी, इन लोगों के झाँसे में मत आ जाना...इस धंधे में ताऊ और समीर लाल जी की 50% की पार्टनरशिप है ओर यहां ब्लागजगत में तो इन्होने कईं कमीशन एजेन्ट भी छोड रखे हैं..जिनका काम है सिर्फ ग्राहकों को फाँस कर लाना..ओर जो कोई फँस गया तो समझिए इनके हाथों उल्टे उस्तरे से मूँड दिया गया :)

      ReplyDelete
    11. हम भी मोटापा कम करने वाली दवाई का इंतजार कर रहे हैं,


      फ़ागुन का रंग चढ़ने लगा है...

      ReplyDelete
    12. कहीं आप भी ताऊ प्रोडक्शन की डिस्ट्रीब्यूटरशिप लेने के चक्कर में तो नहीं हैं जी :-)

      प्रणाम स्वीकार करें

      ReplyDelete

    एक निवेदन !
    आपके दिए गए कमेंट्स बेहद महत्वपूर्ण हो सकते हैं, कई बार पोस्ट से बेहतर जागरूक पाठकों के कमेंट्स लगते हैं,प्रतिक्रिया देते समय कृपया ध्यान रखें कि जो आप लिख रहे हैं, उसमें बेहद शक्ति होती है,लोग अपनी अपनी श्रद्धा अनुसार पढेंगे, और तदनुसार आचरण भी कर सकते हैं , अतः आवश्यकता है कि आप नाज़ुक विषयों पर, प्रतिक्रिया देते समय, लेखन को पढ़ अवश्य लें और आपकी प्रतिक्रिया समाज व देश के लिए ईमानदार हो, यही आशा है !